अखिल भारतीय व्यापारी संघ लॉन्च करेगा भारतमार्केट, दावा- दुनिया का सबसे बड़ा ई-कॉमर्स प्लेटफार्म होगा, देशभर के सभी व्यापारी शामिल हो सकेंगे

0
52
Advertisements

[ad_1]

  • अखिल भारतीय व्यापारी संघ (CAIT) ने  कई टेक्नोलॉजी पार्टनर के साथ मिल कर बनाया भारत मार्केट
  • मैन्युफैक्चर्स से सीधे कंज्यूमर पर प्रोडक्ट पहुंचाने के लिए कई लेटेस्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है

दैनिक भास्कर

May 03, 2020, 06:14 PM IST

नई दिल्ली. व्यापारियों के संगठन अखिल भारतीय व्यापारी संघ (CAIT) ने शुक्रवार को बताया कि वे जल्द ही नेशनल ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस ‘भारतमार्केट’ लॉन्च करेंगे। कई टेक्नोलॉजी पार्टनर के साथ मिल कर तैयार किया गया यह प्लेटफार्म खासतौर से देशभर के खुदरा व्यापारियों के लिए बनाया गया है। मैन्युफैक्चर्स से सीधे कंज्यूमर तक प्रोडक्ट पहुंचाने के लिए प्लेटफार्म में कई लेटेस्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। इसमें होम डिलीवरी की सुविधा भी मिलेगी।

95% खुदरा व्यापारियों को इस प्लेटफार्म पर लाने का लक्ष्य

CAIT के मुताबिक, ई-कॉमर्स प्लेटफार्म में देशभर के व्यापारी शामिल हो सकेंगे। CAIT के सेक्रेटरी-जनरल प्रवीण खंडेलवाल ने बताया कि हमारा लक्ष्य देश के 95 फीसदी खुदरा व्यापारियों को इस प्लेटफार्म पर लाने का है, जो इसके शेयरहोल्डर्स भी होंगे और इसे खासतौर से व्यापारियों के लिए चलाया जाएगा।

सफल रहा पायलट प्रोजेक्ट

इसे देश के कुछ हिस्सों में पायलट प्रोजेक्ट कर शुरू किया जा चुका है, जहां काफी बढ़िया रिस्पॉन्स देखने में आया है। कुछ जरूरी चीजों के साथ शुरुआती तौर पर इसे प्रयागराज, गोरखपुर, वाराणसी, लखनऊ, कानपुर और बेंगलुरु में शुरू किया जा चुका है। जहां खुदरा व्यापारियों, डिस्ट्रीब्यूटर्स और उपभोक्ताओं की बेहतरीन प्रतिक्रियाएं मिली हैं।

90 शहरों में इसकी पहुंच

खंडेलवाल ने कहा कि पायलट प्रोजेक्ट के दौरान मिले अनुभवों के आधार पर अब हम इसे दो हफ्ते के भीतर इसे देश के 90 शहरों में शुरू कर चुके हैं और जल्द ही इसे देश के अन्य शहरों में भी शुरू किया जाएगा। लॉकडाउन के दौरान कंटेनमेंट जोन में लोगों तक जरूरी सामान पहुंचने की क्षमता को देखते हुए इस पहल को मिनिस्ट्री ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा भी सराहा जा चुका है। संगठन को उम्मीद ही कि इस साल प्लेटफार्म पर 1 करोड़ से ज्यादा खुदरा व्यापारी जुड़ेगें और जल्द ही यह दुनिया का सबसे बड़ा और यूनिक ई-मार्केटप्लेट बनकर उभरेगा।

[ad_2]

Source link