अमेरिका ने अमेजन की पांच विदेशी वेबसाइट्स को ब्लैक लिस्ट किया, कंपनी ने कहा- यह कदम राजनीति से प्रेरित, बेजोस से निजी दुश्मनी निकाल रहे ट्रम्प

0
31
Advertisements

[ad_1]

  • अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधी कार्यालय ने कहा- अमेजन पर नकली सामान बेचने की शिकायतें आ रही थी
  • अमेजन ने कहा- प्लेटफार्म पर अवैध गतिविधियों से निपटने के लिए भारी निवेश कर रखा है

दैनिक भास्कर

Apr 30, 2020, 01:48 PM IST

न्यूयॉर्क. लॉकडाउन में भी भारी मुनाफा कमाने वाले कंपनी अमेजन की पांच फॉरेन साइटों को अमेरिकी सरकार में ब्लैकलिस्ट कर दिया है। इसमें यूके, जर्मनी, फ्रांस, इंडिया और कनाडा की साइट शामिल हैं। अमेरिकी प्रशासन में ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर नकली और पायरेटेड प्रोडक्ट्स की बिक्री करने का आरोप लगाया है। इस पर अमेजन ने सफाई देते हुए अमेजन ने कहा- कि ट्रम्प सरकार का यह कदम साफतौर से राजनीति से प्रेरित है, क्योंकि प्लेटफार्म पर अवैध गतिविधियों से निपटने के लिए भारी निवेश कर रखा है। 

अमेजन पर नकली सामान बेचने की कई शिकायतें मिली
अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधी कार्यालय ने बताया यह कदम इसलिए उठाया गया है क्योंकि देश में अमेजन पर नकली सामान बेचने की कई शिकायतें आ रही थी। 

जेफ बेजोस से निजी दुश्मनी निकल रहे ट्रम्प- अमेजन
अमेजन ने बताया कि अमेजन के फाउंडर और सीईओ जेफ बेजोस और राष्ट्रपति ट्रम्प के आपसी मतभेद के कारण इस तरह का कदम उठाया गया है और यह फैसला पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। हालांकि सूची में कोई कानूनी भार नहीं है लेकिन इसमें नाम आने से कंपनियां पर एक सवालिया निशान खड़ा हो जाता है, खासतौर से अमेजन जैसी पॉपुलर कंपनियों पर ज्यादा असर पड़ता है।

यह साफतौर से राजनीतिक षडयंत्र है- अमेजन
कंपनी ने एक बयान में कहा कि- यह साफतौर से राजनीतिक षडयंत्र है। क्योंकि अमेजन के खिलाफ व्यक्तिगत प्रतिशोध को आगे बढ़ाने के लिए प्रशासन ने अमेरिकी सरकार का उपयोग किया। ऑनलाइन शॉपिंग की दिग्गज कंपनी ने यह भी कहा कि उसने नकली उत्पादों को अपने प्लेटफार्म पर बेचे जाने से रोकने के लिए टेक्नोलॉजी में महत्वपूर्ण निवेश किया है। अमेज़न की अमेरिकी वेबसाइट को सूची से बाहर रखा गया था।

साइट पर विक्रेताओं के बारे में स्पष्ट जानकारी उपलब्ध नहीं
रिपोर्ट के मुताबिक, कई शिकायतें सामने आईं जिसमें अमेजन साइटों ने विक्रेताओं के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं दी है और नकली सामान बेचने वाले प्लेटफार्मों को साइट से हटाने की प्रक्रिया लंबी और बोझिल थी। अमेजन ने अपने बयान में कहा कि इस समस्या से निपटने के लिए काफी निवेश किया था, और पिछले साल प्लेटफॉर्म पर लिस्ट होने से पहले 6 बिलियन से अधिक खराब लिस्टिंग को ब्लॉक कर दिया गया था। अमेजन के एक प्रवक्ता ने कहा कि हम नकली सामन की बिक्री में सक्रिय हैं।

अमेजन पर पहले भी आरोप लगा चुके ट्रम्प
ट्रम्प अक्सर अमेजन और व्यक्तिगत रूप से जेफ बेजोस के साथ कई बार भिड़ गए हैं, जिन्होंने हाल ही में वाशिंगटन पोस्ट अखबार खरीदा है। इससे पहले भी ट्रम्प अमेजन पर पर्याप्त टैक्स न भरने का आरोप लगा चुके हैं।

[ad_2]

Source link