गूगल और WHO ने मिलकर लॉन्च की SOS अलर्ट सुविधा, लोगों को खतरे की सही जानकारी मिलेगी

0
41
Advertisements

[ad_1]

दैनिक भास्कर

Jan 31, 2020, 05:06 PM IST

गैजेट डेस्क. कोरोनावायरस के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगाठन (डब्ल्यूएचओ) शुक्रवार को ग्लोबल इमरजेंसी घोषित कर चुका है। दुनियाभर के लोग इसके लक्षण और बचाव के तरीके जानने के लिए गूगल की मदद ले रहे हैं। ऐसे में लोगों में अफवाहों से बचाने के लिए गूगल ने एसओएस अलर्ट फीचर लॉन्च किया है। इसके जरिए कोरोनावायरस के बारे में सर्च करने पर यूजर सीधे डब्ल्यूएचओ और आधिकारिक सोर्स द्वारा दी गई जानकारी पर पहुंचेगा। इसमें वायरस से जुड़ी सही जानकारी और न्यूज समेत उससे बचाने के तरीके समेत लाइव अपडेट्स शामिल हैं। गूगल ने इसके लिए डब्ल्यूएचओ के साथ साझेदारी की है। हाल ही में गूगल ने ट्वीट के जरिए इसकी जानकारी दी।

गूगल ने ट्विटर के जरिए जानकारी दी कि कोई भी यूजर कोरोनावायरस के बारे में गूगल सर्च करेगा, उसे रिजल्ट में डब्ल्यूएचओ द्वारा जारी की गई जानकारी ही दिखाई देंगी। इसमें वायरस के प्रकोप, खुद को इससे सुरक्षित रखने के तरीके, न्यूज, रिसोर्स समेत डब्ल्यूएचओ ट्विटर पर दी गई लाइव अपडे्स शामिल हैं। इससे न सिर्फ लोगों में कोरोनावायरस के बारे में सही जानकारियां मिलेंगी बल्कि उन्हें गलत लिंक और अफवाहों से दूर रखा जा सकेगा।

13211 1580468699

बचाव कार्य के लिए डोनेशन भी दे रही है गूगल
इसके अलावा गूगल ने कोरोनावायरस से निपटने के लिए $250,000 (17.85 करोड़ रुपए) देने का भी एलान किया है, जिसे बचाव कार्य के लिए चाइनीज रेड क्रॉस को सौंपा जाएगा। इसके अलावा कंपनी मुहिम भी चला रहा है कि जिसके तहत गूगल के कर्मचारियों द्वारा डोनेशन इकट्ठा किया जा रहा है। गूगल के कर्मचारी अबतक $800,000 (5.71 करोड़ रुपए) डोनेशन इकट्ठा कर चुके हैं।

214 लोगों की जान ले चुका है कोरोनावायरस
चीन में ये वायरस अबतक 214 लोगों की जान ले चुका है वहीं दुनियाभर से अबतक इसके 9822 मामले सामने आ चुके हैं। हुबेई प्रांत में सबसे ज्यादा 204 मौत हुईं और यहां 5806 लोगों में वायरस की पुष्टि हुई। इसके बढ़ते प्रकोप को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने शुक्रवार को ग्लोबल इमरजेंसी की घोषणा की।

गूगल का ऑफिशियल ट्वीट



[ad_2]

Source link