ग्रीन जोन में मारुति-हुंडई के डीलर्स शुरू कर रहे कामकाज, मई में सकारात्मक नतीजे मिलने की उम्मीद

0
40
Advertisements

[ad_1]

  • ग्रीन जोन में लॉकडाउन में ढील से कंपनियां आगे के लिए तैयारी कर सकेंगी
  • फॉक्सवैगन के लगभग सभी डीलरशिप आउटलेट रेड जोन में
  • देश में कुल 733 जिले, इनमें से 44 फीसदी जिले ग्रीन जोन में हैं

दैनिक भास्कर

May 01, 2020, 03:32 PM IST

नई दिल्ली. शुक्रवार को लगभग सभी कंपनियों ने अपनी सेल्स रिपोर्ट जारी कीं। इसमें बेहद चौंकाने वाला आंकड़ें सामने आए। रिपोर्ट के मुताबिक, किसी भी कंपनी की एक भी कार नहीं बिकी। चाहे देश में सबसे ज्यादा कारों की बिक्री करने वाली मारुति सुजुकी की बात करें या लग्जरी कार बनाने वाली मर्सिडीज, सभी का एक जैसा हाल था। देश के सात दशक के इतिहास में पहली बार ऑटोमोटिव कंपनियों ने इन हालातों का सामना किया। व्यापार को दोबारा पटरी पर लाने के लिए ऑटो कंपनियों में कदम बढ़ाना शुरू कर दिए हैं। सरकार द्वारा बनाए गए ग्रीन जोन में आदेशानुसार डीलर्स शोरूम दोबारा शुरू कर रहे हैं। उम्मीद की जा रही है इससे मई के आंकड़ों में थोड़ा इजाफा जरूर देखने को मिलेगा।

ग्रीन जोन में ऑटो कंपनियों ने कामकाज शुरू किया
देश में दो बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी और हुंडई ने सरकार के आदेशानुसार ग्रीन जोन में स्थित कई डीलर आउटलेट और सर्विस सेंटर्स शुरू कर दिए हैं वहीं देश के कई हिस्सों में परमिशन का इंतजार किया जा रहा है। वहीं टाटा मोटर्स, होंडा कार्स, फॉक्सवैगन और टोयोटा जैसे ब्रांड्स ने अपने ऑपरेशन शुरू करने से पहले डीलर्स के लिए कुछ स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रक्रियाएं और गाइडलाइन्स जारी की हैं।

कंपनी के पास 13 हजार कारों की इन्वेंट्री- मारुति सुजुकी
मारुति सुजुकी इंडिया के हेड आरसी भार्गव ने बताया कि सभी ऑटो कंपनियां दुकानें और प्रतिष्ठान अधिनियम के अंतर्गत आती हैं, ऐसे में कुछ जगहों पर जिसे सरकार ने ग्रीन जोन बनाया है वहा आउटलेट खोलने की इजाजत मिल गई है। यह एक सकारात्मक कदम है क्योंकि कई कंपनियां इस वक्त कैश की समस्या से जूझ रहे हैं। यह समस्या बिक्री शुरू होने के बाद और बुकिंग्स मिलने पर सही हो सकेंगी। इस समय कंपनी की फैक्ट्री और डीलरों के पास 13 हजार कारों की इन्वेंट्री है।

डीलर्स को भेजेंग मास्क और सैनेटाइजर- हुंडई
हुंडई इंडिया के तरुण गर्ग (सेल्स एंड मार्केटिंग डायरेक्टर) ने बताया कि सरकार की तरफ से लॉकडाउन में दी गई ढील से डीलर्स आगे की तैयारी कर सकेंगे। अन्य कंपनियों की तरह हुंडई ने आगे काम करने के लिए चैनल पार्टनर्स के साथ गाइडलाइन शेयर कर दी है। हमने 5 लाख मास्क और सैनेटाइजर्स डीलरों को भिजवा रहे हैं। इस समय कंपनी के पास 50 हजार कारों की इन्वेंट्री मौजूद है।

फॉक्सवैगन के ज्यादातर डीलरशिप रेड जोन में
जर्मन कार कंपनी फॉक्सवैगन के एग्जीक्यूटिव का कहना है कि उनकी डीलरशिप लॉकडाउन पूरी तरह से खत्म होने के बाद ही खुल सकेंगे, क्योंकि कंपनी के ज्यादातर डीलरशिप रेड जोन में स्थित हैं।

ऐसे समझें जोन का गणित

देश में कुल 733 जिले। इसमें से 130 रेड जोन, 284 ऑरेंज जोन और 319 ग्रीन जोन में। जहां सबसे कम मामले वे जिले रेड जोन में, जहां 14 दिन से नए मामले सामने नहीं आए वे जिसे ऑरेंज जोन में और जहां 21 दिन से नए मामले सामने नहीं आए वे जिसे ग्रीन जोन में हैं।

2020 05 01 1588326712

38 फीसदी जिले ऑरेंज जोन में हैं

[ad_2]

Source link