Lockdown 3.0: Aarogya Setu ऐप इन लोगों के लिए हुआ अनिवार्य

0
39
Advertisements

[ad_1]

सरकार ने COVID-19 महामारी को रोकने के लिए चल रहे लॉकडाउन को एक बार फिर दो हफ्तों के लिए आगे बढ़ा दिया है। चल रहा लॉकडाउन पहले 3 मई को खोला जाना था, लेकिन शुक्रवार को एक घोषणा की गई और इसे दो हफ्तों के लिए आगे बढ़ा दिया गया है। साथ ही सरकार ने अब सभी सार्वजनिक और निजी सेक्टर के कर्मचारियों के लिए Aarogya Setu ऐप का इस्तेमाल अनिवार्य कर दिया है। इसके अलावा यह ऐप कोविड-19 कंटेनमेंट ज़ोन में रहने वाले लोगों के लिए भी अनिवार्य कर दिया गया है। सरकार ने अधिकारियों को कहा है कि वे सुनिश्चत करें कि इन ज़ोन में इस ऐप को सभी लोग इंस्टॉल करें। आरोग्य सेतु ऐप को अप्रैल की शुरुआत में सरकार द्वारा पेश किया गया था और लॉन्च के कुछ ही दिनों के अंदर ऐप को करोड़ों बार डाउनलोड भी कर लिया गया है।

गृह मंत्रालय (MHA) ने अपने निर्देश में कहा, (अनुवादित) “निजी और सार्वजनिक दोनों सेक्टर के सभी कर्मचारियों के लिए आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल अनिवार्य किया जाएगा। यह संबंधित संगठनों के प्रमुखों की ज़िम्मेदारी होगी कि वे अपने कर्मचारियों के बीच इस ऐप के 100 प्रतिशत कवरेज को सुनिश्चित करें।”

सरकार ने बुधवार को सभी केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए ऐप का इस्तेमाल अनिवार्य कर दिया था।

गाइडलाइन्स में एमएचए ने यह भी कहा है कि रेड ज़ोन के प्राइवेट कार्यालय (कंटेनमेंट ज़ोन को छोड़कर) 33 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम कर सकते हैं। बचे हुए कर्मचारियों को घर से काम करना होगा। इसके अलावा ऑरेंज और ग्रीन ज़ोन में 100 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ दफ्तर खुलने की अनुमति है। रेड ज़ोन के सरकारी कार्यालयों में सभी सीनियर अधिकारियों के साथ शेष 33 प्रतिशत कर्मचारी काम कर सकते हैं।

MHA की गाइडलाइन्स में यह भी साफ किया गया है कि सभी अधिकारी ये सुनिश्चित करें कि हर कंटेंनमेंट ज़ोन में सभी नागरिक Aarogya Setu ऐप  का इस्तेमाल करें।

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



[ad_2]

Source link