WhatsApp से मिलेगा कर्ज़, एक रिपोर्ट का दावा

0
33
Advertisements

[ad_1]

Facebook भारत में WhatsApp Pay को शुरू करने के लिए भरसक प्रयास कर रहा है। सोशल मीडिया दिग्गज इसके लिए लगातार नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के साथ बातचीत पर लगा हुआ है। भले ही फिलहाल व्हाट्सऐप पे एक चरणबद्ध रोल आउट स्टेज में है, लेकिन फेसबुक कथित तौर पर भारत में पहले से ही लेंडिंग मार्केट में प्रवेश करने की तैयारी करने लग गई है। एक रेग्युरेटरी फाइलिंग में कंपनी ने क्रेडिट को भारत में उसके बिजनेस प्लान्स के रूप में दिखाया है। बता दें कि यह खबर भारत में Amazon द्वारा ‘अमेज़न पे लेटर’ सर्विस शुरू के ठीक एक दिन बाद सामने आई है।

TechCrunch द्वारा एक्सेस की गई लिस्टिंग से जानकारी मिली है कि व्हाट्सऐप पेमेंट्स ने भारत में अपने हालिया मिनिस्ट्री ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स फाइलिंग में क्रेडिट को अपने बिजनेस प्लान के मुख्य हिस्से के रूप में दिखाया है। क्रेडिट को लेकर फिलहाल स्पष्ट जानकारी नहीं है कि कंपनी क्रेडिट को यूज़र्स तक किस प्रकार पहुंचाएगी। फिलहाल यह देखना होगा कि यह क्रेडिट ग्राहकों को मिलने वाला माइक्रो लोन होगा या पेमेंट्स पोर्टल के जरिए सामान खरीदने पर मिलने वाला लोन होगा। चाहे इन दोनों में से कुछ भी हो, लेकिन यह तय है कि आगामी क्रेडिट सुविधा व्यावसायिक रूप से WhatsApp Pay के भारत में रोल आउट होने के बाद ही शुरू की जाएगी। इस समय चल रही COVID-19 महामारी के कारण लोन की दुनिया में उछाल देखने की उम्मीद है और कहीं न कहीं फेसबुक इस मौके को गवाना नहीं चाहती है।

यही कारण है कि अमेज़न ने भी अपनी साइट पर होने वाली शॉपिंग पर इंस्टेंट क्रेडिट की पेशकश करने का फैसला लिया है, जिसके लिए कंपनी ने Amazon Pay later सर्विस शुरू की है। इसमें किराने का सामान और यूटिलिटी बिल पेमेंट पर लोन दिया जा रहा है। नई सर्विस यूज़र को बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के बाद के महीने में पैसे चुकाने का विकल्प देती है और बड़ी राशि को ग्राहक 12 महीने तक की किस्तों में भी बदल सकते हैं। फ्लिपकार्ट इस तरह का विकल्प ‘फ्लिपकार्ट पे लेटर’ के नाम से पहले से देती आ रही है, जिसमें वह अपने ग्राहकों को क्रेडिट की सुविधा देती है।

इस साल फरवरी में एनपीसीआई से लाइसेंस मिलने के बाद Facebook ने WhatsApp Pay को चरणबद्ध तरीके से रोलआउट करने की शुरुआत कर दी थी। कहा जाता है कि यह फीचर अभी तक भारत में 10 मिलियन यानी 1 करोड़ से अधिक यूज़र्स तक पहुंच गया है। व्हाट्सऐप पेमेंट सर्विस मोबाइल लेनदेन को सक्षम करने के लिए यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) का उपयोग करती है। हालांकि भारत में व्हाट्सऐप के 400 मिलियन यानी 40 करोड़ से अधिक यूज़र्स हैं और सभी यूज़र्स के लिए पेमेंट फीचर तभी रोलआउट होगा, जब इसे NPCI से पूरी तरह से इजाज़त मिल जाएगी।

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें

[ad_2]

Source link