Xiaomi Mi 10 5G में है कितना दम? पहली नज़र में…

0
88
Advertisements

[ad_1]

पिछले कुछ सालों में बजट स्मार्टफोन मार्केट पर हावी होने के बाद, Xiaomi ने आखिरकार भारत में Mi 10 5G को लॉन्च कर दिया है, जो कंपनी की हाई-एंड कीमत वाली पेशकश है। शाओमी शुरुआत से ही अपने स्मार्टफोन पर कम कीमत में प्रीमियम फीचर्स देने के लिए जानी जाती है और कई बार कंपनी ऐसे स्मार्टफोन लॉन्च करती है, जिनके सामने सैमसंग जैसे दिग्गजों द्वारा लॉन्च किए स्मार्टफोन भी फीके दिखने लगते हैं। अब Mi 10 5G के साथ भी कंपनी इसी योजना के साथ आगे बढ़ती दिखाई दे रही है। Mi 10 5G का सबसे बड़ा फीचर इसका 108-मेगापिक्सल कैमरा है, जो कि Samsung के Galaxy S20 Ultra जैसे महंगे स्मार्टफोन के कैमरा के बराबर है, लेकिन उसके दाम से काफी कम कीमत में आता है।

मी 10 5जी के 128 जीबी स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 49,999 रुपये और इसके 256 जीबी वेरिएंट की कीमत 54,999 रुपये है। जाहिर है कि यह कंपनी का फ्लैगशिप स्मार्टफोन है, इसलिए इसमें फीचर्स भी प्रीमियम आते हैं। यह फोन OnePlus 8 और OnePlus 8 Pro, Realme X50 Pro 5G, iPhone SE (2020), iPhone XR और Samsung Galaxy S20 और Galaxy S10 को टक्कर देता है।

लॉकडाउन के चलते इस फोन के नियोजित लॉन्च में देरी हुई और यही लॉकडाउन हमें डिवाइस को हाथों में लेने से रोकता है, लेकिन Xiaomi ने Gadgets 360 को Mi 10 5G की सभी बारीक जानकारी दी है और स्मार्टफोन के बारे में हमारे सभी सवालों के जवाब भी दिए हैं, इसलिए हम आपको हमारे शुरुआती विश्लेषण के बारे में बता सकते हैं।

शुरुआत करते हुए हम सबसे पहली बात Xiaomi Mi 10 5G के डिज़ाइन की करेंगे। कंपनी ने स्मार्टफोन में स्टाइलिंग और बिल्ड क्वालिटी के मामले में काफी सुधार किए हैं। फ्लैगशिप होने के नाते कंपनी ने स्मार्टफोन को जितना हो सके आकर्षक बनाने की कोशिश की है। मी 10 5जी में हमें 3D कर्व्ड ग्लास डिस्प्ले मिलता है। यह भारत में दो रंगों में उपलब्ध होगा, सिग्नेचर कोरल ग्रीन और ट्विलाइट ग्रे।

कैमरों की बात करें तो इसमें शामिल क्वाड रियर कैमरा सेटअप में सबसे महत्वपूर्ण चीज़ और स्मार्टफोन की यूएसपी ओआईएस और एक बड़े सेंसर वाला 108-मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा है, जो यूज़र्स को लंबी दूरी पर ली गई तस्वीरों पर भी बेहतरीन डिटेल कैप्चर करने में मदद करता है। स्मार्टफोन 8K वीडियो रिकॉर्डिंग करने में भी सक्षम है, हालांकि वास्तविक दुनिया में यह कितना कारगर है यह फिलहाल देखना बाकि है।

शाओमी ने कई कैमरा फीचर्स पेश किए हैं, जो बड़ा प्राइमरी सेंसर और चिपसेट की प्रोसेसिंग पावर का लाभ उठाते हैं, उनमें से सबसे दिलचस्प है पोर्ट्रेट मोड में फेज़्ड डेप्थ का शामिल होना, प्रो मोड में फोकस पीकिंग, पोर्ट्रेट वीडियो, कलर एक्सट्रैक्शन, AI एक्सपोज़र और कॉन्ट्रास्ट करेक्शन, नाइट मोड और एक बिल्कुल नया vlog मोड।
 

mi

ये सभी दिलचस्प फीचर्स हैं और दिखाते हैं कि Xiaomi न कि केवल स्पेसिफिकेशन के बारे में, बल्कि अपने यूज़र्स के बारे में भी सोच रही है। हालांकि, हम बैक में शामिल अन्य कैमरों को लेकर थोड़ी असमंजस में हैं। रियर कैमरा सेटअप में दिए अन्य कैमरों में 13-मेगापिक्सल वाइड-एंगल, 2-मेगापिक्सेल मैक्रो और 2-मेगापिक्सल डेप्थ सेंसर शामिल हैं, जो आजकल आने वाले आम मिड-रेंज स्मार्टफोन कैमरा जैसा महसूस कराते हैं। इन्ही रिजॉल्यूशन के कैमरा आपको सब-15,000 सेममेंट के स्मार्टफोन पर भी मिल जाएंगे और यहां तक ​​कि रेडमी नोट 9 प्रो (रिव्यू) में बेहतर मैक्रो कैमरा है। कंपनी ने Gadgets 360 को बताया कि लागत को नियंत्रण में रखने के लिए ये समझौते आवश्यक थे।

Mi 10 5G में स्क्रीन 6.67 इंच साइज़ के साथ आती है और इसमें फुल-एचडी+ 1080×2340 रिजॉल्यूशन वाला पैनल लगा है, जिसे फ्लैगशिप-लेवल नहीं बोला जा सकता। Xiaomi ने इस डिस्प्ले में 90Hz रिफ्रेश रेट, DCI-P3 कलर गैमट कवरेज और HDR10+ सपोर्ट शामिल है। कंपनी ने स्मार्टफोन पर फोटोग्राफरों और डिजाइनरों के लिए कलर एक्युरेसी का ख्याल भी रखा है। कंपनी का कहना है कि जो लोग ऑनलाइन खरीदारी करते हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि प्रोडक्ट असल में कैसा दिखेगा।

शाओमी ने फ्लैगशिप में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 865 चिपसेट है, जिसे हमने पहले भी कई प्रीमियम फोन में देखा है और हम जानते हैं कि यह बहुत शक्तिशाली प्रोसेसर है। तापमान को बनाए रखने के लिए फोन में कई तापमान सेंसर और कूलिंग सिस्टम भी दिये गए हैं। आपको 5G सपोर्ट मिलता है, हालांकि फिलहाल यह फीचर भारत में उपयोगी नहीं है, क्योंकि भारत में इस समय 5जी कनेक्टिवी उपलब्ध नहीं है। Xiaomi ने भारत में इस मॉडल के नाम के अंत में 5G को भी शामिल करने पर जोर दिया।

Mi 10 5G में 8 जीबी LPDDR5 रैम का इस्तेमाल किया गया है और इसमें UFS 3.0 स्टैंडर्ड के साथ 128 जीबी और 256 जीबी स्टोरेज विकल्प शामिल हैं। कंपनी ने भारत में 12 जीबी रैम वेरिएंट पेश नहीं किया है, हालांकि यह विकल्प अन्य बाजारों में मौजूद है। अन्य फीचर्स में वाई-फाई 6, 4780 एमएएच क्षमता की बैटरी, 30W वायर्ड के साथ-साथ 30W वायरलेस चार्जिंग और 10W रिवर्स वायरलेस चार्जिंग शामिल हैं। दिलचस्प बात यह है कि इसमें 3.5 एमएम हेडफोन सॉकेट नहीं है और कोई नोटिफिकेशन एलईडी भी नहीं है।
 

mi

हमें इसमें प्रभावित करने वाली बात यह लगी कि शाओमी ने अपने MIUI सॉफ्टवेयर में खास तौर पर Mi 10 5G के लिए थोड़ा बदलाव किए हैं और कंपनी इसे “टियर 1 एंड्रॉयड” कह रही है। कंपनी ने इसमें से अपने कई मूल ऐप्स को हटा दिया है, जैसे कि फोन डायलर और मैसेज ऐप्स। इसके बजाय इसमें Google के स्टॉक ऐप्स का इस्तेमाल किया है। इसके अलावा कंपनी ने यह भी वादा किया है कि इस सॉफ्टवेयर में सभी विज्ञापन, प्रोमोशनल नोटिफिकेशन, ब्लोटवेयर और रेवेन्यू जनरेशन के अन्य तरीकों को भी हटा दिया गया है। यह फोन MIUI 12 प्राप्त करने वाले पहले शाओमी स्मार्टपोन में से एक होगा।

हम इस फोन के प्रदर्शन और शाओमी के दावों को टेस्ट करने के लिए उत्सुक हैं, खासकर इसके कूलिंग सिस्टम और डिस्प्ले क्वालिटी। बेशक पन्नों पर इसकी स्पेसिफिकेशन प्रभावशाली हैं, लेकिन अंत में यूज़र का अनुभव सबसे ज्यादा मायने रखता है। शाओमी इस फोन के कुछ अन्य पहलुओं को भी नोट करती है, जैसे बैलेंस्ड स्टीरियो स्पीकर, 180 हर्ट्ज़ टच सेंपलिंग रेट, अच्छा वाइब्रेशन अलर्ट, सामान्य से छोटा कैमरा कटआउट। हम Mi 10 5G का फुल रिव्यू करेंगे, जो इन सभी पहलुओं को कवर करेगा। हालांकि उसके लिए हमें लॉकडाउन खुलने का इंतज़ार करना होगा।

कुल मिलाकर, Mi 10 5G से पता चलता है कि Xiaomi सिर्फ बजट फोन से आगे भी बहुत कुछ कर सकता है। इसके फीचर्स स्पेसिफिकेशन को देखते हुए इसकी कीमत को अच्छा मूल्य माना जा सकता है, यह देखते हुए कि यह हाल ही में लॉन्च किए गए OnePlus 8 पर कुछ मामले में बढ़त लेता है। लेकिन हां, यह पूरी तरह से एक फ्लैगशिप डिवाइस नहीं है – इसमें आईपी रेटिंग की कमी है, रियर कैमरों का तालमेल अच्छा नहीं है और हो सकता है कि स्क्रीन उतनी अच्छी न हो, जितनी कुछ प्रतियोगिता प्रदान करती है।

[ad_2]

Source link